Kajal Jawla की IAS officer बनने की प्रेरणात्मक कहानी – पति के सपोर्ट से तय की सफलता की सीढ़ी

Mad4Her By Preeti | 16 sec read

अगर आप जिंदगी में कुछ करने की ठान लो तो उसे पूरा होने से कोई नहीं रोक सकता, और अगर इस राह में कोई साथ मिल जाए तो मंजिल मिल ही जाती है। हालांकि लड़कियों के लिए अपने सपने पूरा करना आज भी काफी मुश्किल माना जाता है। माना जाता है कि शादी के बाद लड़की की जिंदगी पूरी तरह बदल जाती है, ऐसे में शादी के बाद किसी भी लड़की के लिए अपने सपने पूरा करना नामुमकिन सा है, लेकिन आईएएस ऑफिसर काजल (Kajal Jawla) की सक्सेस स्टोरी जानने के बाद आपकी ये अवधारणा बदल जाएगी। काजल ने 2018 में हुए यूपीएसी एग्जाम में देशभर में 28वीं रैंक हासिल की थी, पर उनका ये सफर बिल्कुल भी आसान नहीं था।   

kajal jawla
Image – Kajal Jawla
Image source – Facebook

IAS Officer Kajal Jawla की कहानी

मूल रूप से मेरठ की Kajal Jawla को शुरू के कुछ अटेम्पट्स में सफलता नहीं मिली, परन्तु आखिरकार उन्होंने सफलता पा ही ली। कुछ अटेम्पट्स के बाद एग्जाम क्लियर किया और अपने आईएएस बनने का सपना पूरा किया। ज्यादातर लोग 2-3 बार ट्राय करते हैं और फिर हार मानकर आईएएस बनने का ख्वाब छोड़ देते हैं । लेकिन काजल जावला ने कभी भी हार नहीं मानी। काजल बचपन में डॉक्टर बनना चाहती थी, लेकिन जब उन्हें अपने पिता और टीचर्स से यूपीएसी एग्जाम के बारे में पता चला, तो उन्होंने आईएएस ऑफिसर बनने की ठान ली। काजल ने 2010 में मथुरा से इलेक्ट्रॉनिक कम्युनिकेशन में बीटेक किया और इसके बाद Wipro में नौकरी करने लगी।

Wipro में नौकरी के दौरान भी Kajal Jawla ने अपनी पढ़ाई जारी रखी। काजल का सालाना पैकेज काफी अच्छा था। लेकिन इतनी अच्छी नौकरी होने के बावजूद भी काजल जावला ने कभी आईएएस ऑफिसर बनने का सपना नहीं छोड़ा। वो ऑफिस से आने के बाद यूपीएस की तैयारी किया करती थी। काजल मेहनत तो पूरी करती थी, लेकिन प्रारम्भिक परीक्षा में उन्हें कई बार असफलता देखनी पड़ी, कई बार फेल होने के बाद काजल की उम्मीद टूटने लगी थी, इसी दौरान उनकी शादी की बातें भी शुरु हो गई।  उन्हें लगा कि शायद अब उनका ये सपना कभी पूरा नहीं हो पाएगा। लेकिन उनकी शादी ही उनकी लाइफ का सबसे बड़ा टर्निंग पॉइंट साबित हुआ।

पति का सपोर्ट

साल 2016 में Kajal Jawla ने आशीष मलिक से शादी कर ली। शादी के बाद काजल को लगा कि अब वो कभी आईएएस नहीं बन पाएंगी। लेकिन उनके पति बहुत ज्यादा सपोर्टिव थे। आशीष ने काजल को यूपीएसी की तैयारी के लिए मोटिवेट किया। उन्होंने काजल को भरोसा दिलाया की, वो आईएएस ऑफिसर बन सकती हैं। आशीष के साथ मिलकर काजल ने अपनी गलतियों पर काम किय़ा। एक इंटरव्यू में काजल जावला ने बताया कि उनके पति के सपोर्ट के कारण ही वो जॉब के साथ-साथ पढ़ाई भी कर पाई। उनके पति आशीष ऑफिस से उनसे पहले घर आ जाया करते थे, वो काजल के आने से पहले सारे काम कर देते थे, जिसे काजल को अपने लिए भरपूर समय मिल जाता था।

Kajal & Ashish Malik
Image – Kajal & Ashish Malik
Image source – Facebook

आशीष के सपोर्ट के कारण ही Kajal Jawla 2018 में यूपीएसी का एग्जाम क्लियर कर पाई और देशभर में 28वीं रैंक हासिल कर आईएएस ऑफिसर बन गई। काजल को IAS Main written में 1750 से 850 नंबर मिले थे, वहीं IAS Interview में उन्हें 201 नंबर मिले थे।

Kajal & Ashish Malik
Image – Kajal & Ashish Malik
Image source – Facebook

अगर Kajal Jawla कर सकती है तो आप भी कर सकते हैं

कहा जाता है कि एक आदमी की कामयाबी के पीछे एक औरत का हाथ होता है, पर एक औरत की कामयाबी के पीछे एक आदमी का हाथ हो सकता है, ये बात काजल जावला और आशीष मलिक ने साबित कर दी। बार-बार फेल होने के बाद भी काजल प्रयास करती रही, जिससे यकीन होता है कि अगर आप में अपने सपनों को पूरा करने की चाह है तो आपको कोई नहीं रोक सकता है। काजल जावला के अनुसार अगर वो आईएएस ऑफिसर बन सकती हैं, तो कोई भी बन सकता है, जरुरत है तो बस लगन और मेहनत की। अगर आप पहली बारी में पास नहीं हुए तो क्या हुआ दोबारा प्रयास कीजिए, तब तक प्रयास करते रहिए, जब तक आपको आपकी मंजिल ना मिल जाए।

Suggested For You 
Bootstrap Media Preview
एक ऐसा ब्रांड जो की बिना सेलिब्रिटी के ले रहा है कोक-पेप्सी से टक्कर - 100 करोड़ का सालाना टर्नओवर

Kajal Jawla के बारे में ज्यादा जानने के लिए चेक करें – Facebook, Instagram.

अगर आप किसी भी प्रेरणात्मक कहानी के बारे में जानते है, और आप चाहते है की हम उसके बारे में mad4india.com पर लिखे। ऐसे जानकारी शेयर करने के लिए आप हमें Facebook  या  LinkedIn पे संपर्क कर सकते है। वो प्रेरणात्मक कहानी किसी भी व्यक्ति, कंपनी, नए आईडिया या सोशल पहल के बारे में हो सकती है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.